February 26, 2024

Lucknow:इन-हाउस प्रशिक्षण देकर कार्मिकों का कौशल निखार रही योगी सरकार

1 min read

 

लखनऊ, 1 नवंबर। योगी सरकार प्रदेश में युवाओं के साथ-साथ कार्मिकों के कौशल विकास को लेकर भी लगातार कार्य कर रही है। इसी क्रम में परिवहन निगम के इतिहास में पहली बार इन हाउस ट्रेनिंग देकर तकनीकी कार्मिक तैयार करने का प्रयास किया जा रहा है। इसके तहत 27 कार्मिकों के पहले बैच का प्रशिक्षण भी पूरा हो चुका है और अब पहले 23 की परीक्षा ली जाएगी। इसमें जो पास होंगे उन्हें पीस मील वर्क के आधार पर कार्यशाला में कार्य करने का अवसर दिया जाएगा।

456 घंटे की हुई ट्रेनिंग


परिवहन विभाग के कार्मिकों को कौशल विकास मिशन के अंतर्गत फोर व्हीलर सर्विस टेक्नीशियन (तकनीकी) कोर्स में यह प्रशिक्षण कानपुर स्थित प्रशिक्षण संस्थान में दिया जाएगा। कोर्स के लिए तय नियमावली के अनुसार  यह कोर्स आवासीय होगा, जिसमें रहना, खाना निःशुल्क रहेगा। कोर्स की प्रशिक्षण अवधि 456 घंटे (04 माह) की होगी। कोर्स में प्रवेश लेने के लिए संबंधित क्षेत्र के सेवा प्रबंधक उत्तर प्रदेश परिवहन निगम से अनुमति प्राप्त करनी होगी तथा उनसे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। प्रत्येक क्षेत्र से 3-3 कार्मिकों को प्रशिक्षण दिया जाना प्रस्तावित है। अभ्यर्थी का आवेदन सेवा प्रबंधक के माध्यम से अग्रसारित होना चाहिए। जिनका आवेदन सेवा प्रबंधक के माध्यम से पहले प्राप्त होगा उनका प्रशिक्षण पहले बैच में होगा। प्रशिक्षण के उपरांत मुख्य प्रधान प्रबंधक (प्रावि०) परिवहन निगम मुख्यालय लखनऊ द्वारा निर्गत आदेश के अनुसार कार्यशाला में ठेकेदार, आउटसोर्सिंग के माध्यम से कार्य पर रखा जा सकता है।

एक बैच में होंगे 27 अभ्यर्थी


एक बैच में 27 अभ्यर्थियों को ही प्रशिक्षण दिया जाएगा। अभ्यर्थी पूर्व में कौशल विकास मिशन के अंतर्गत किसी भी ट्रेड में प्रशिक्षण प्राप्त न किया हो।प्रशिक्षण के दौरान किसी प्रकार का वेतन भत्ता व स्टाइपेंड नही दिया जाएगा। कोर्स में प्रशिक्षण के दौरान आधार कार्ड, शैक्षिक योग्यता (कम से कम हाईस्कूल),  बैंक पासबुक, एक फोटो, ई-मेल आई.डी., मोबाइल नंम्बर और आयु (अधिकतम 34 वर्ष), जैसे प्रपत्रों की आवश्यकता होगी।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)